अमेरिकी सेना से घिर गया आतंकवादी सरगना, खुद को पत्नी-बच्चे समेत बॉम्ब से उड़ा दिया…

अमेरिकी सेना ने जिस तरह से अलकायदा के आतंकी ओसामा बिन लादेन को पकड़ने के लिए ऑपरेशन चलाया था। ठीक उसी तरह का ऑपरेशन कुरैशी को पकड़ने के लिए भी चलाया गया था। सीरिया में अमेरिकी सेना के एक ऑपरेशन में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट का सरगना अबू इब्राहिम अल-हाशिमी अल-कुरैशी ढेर हो गया।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कुरैशी के मारे जाने की घोषणा की है। कुरैशी तुर्की सीमा पर सीरियाई शहर में एक तीन मंजिला इमारत में रह रहा था। अमेरिकी सेना कुरैशी तक पहुंच पाती, उससे पहले ही उसने खुद को बम से उड़ा लिया।

अक्टूबर 2019 में जब अमेरिकी सेना ने आईएस के सरगना अबु बकर अल-बगदादी को पकड़ने का ऑपरेशन चलाया था। तब वो भी एक सुरंग में छिप गया था और घिरने के बाद अपने बच्चों समेत खुद को बम से उड़ा लिया था। अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन ने इसे ‘कायरता’ बताया है।

20 दिसंबर को जो बाइडेन को आतंकी कुरैशी को जिंदा पकड़ने की योजना के बारे में बताया गया था। इस ऑपरेशन की प्लानिंग दिसंबर की शुरुआत में हुई थी। कुरैशी तीन मंजिला इमारत में रह रहा है। इसमें दिक्कत ये थी कि कुरैशी बहुत ही कम घर से बाहर निकलता था। कुरैशी को एक हमले में मारने की योजना भी बनाई गई। आसपास बच्चों और आम नागरिकों की मौजूदगी की वजह से ऑपरेशन नहीं चलाया गया।

कुरैशी के बम से उड़ाने से पहले सेना ने पहली मंजिल से 4 बच्चों समेत 6 लोगों को बाहर निकाल लिया था। कुछ देर बाद ही उसने खुद को बम से उड़ा लिया। इसमें कुरैशी के अलावा उसकी दोनों पत्नी और एक बच्चे की भी मौत हो गई। अमेरिकी सेना के मुताबिक, इस ब्लास्ट में कम से कम 13 लोग मारे गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.