पंजाब की घटना पर पीएम मोदीने कहा की मैंने इस विषय पर मौन रखा हुआ है क्योंकि…

पीएम मोदी से पूछा गया था कि पंजाब में आपका काफिला ब्रिज पर फंस गया था। आपने किसी से कहा, अपने सीएम से कहना मैं जिंदा वापस जा रहा हूं?

इस पर पीएम मोदी ने कहा की पूरे उत्तर भारत से मेरा नाता रहा है। मैंने पंजाब के लोगों की वीरता को देखा है। मैंने पंजाब के लोगों के दिल को देखा है। मैं पंजाब में बहुत रहा हूं। मैं पार्टी का काम वहां करता था। मैं मोगा या तरंता में था। मुझे अगले स्टेशन पर जाना था। मुझे देर हो गई। मेरी गाड़ी खराब हो गई थी। धक्के लगाए, नहीं चली। खेत में दो तीन लोग थे। उन्होंने भी धक्के लगाए, लेकिन नहीं चली। उन लोगों ने बताया कि नजदीक में कोई मैकेनिक नहीं मिलेगा।

उन्होंने विनम्रता से मुझसे कहा की गाड़ी यहां छोड़ दो तुम और ड्राइवर मेरे साथ चलो। खेत पर हमारी झोपड़ी है वहीं खाना खा लो। सरदार परिवार ने कहा की आप यहीं रुक जाओ। बाद में उन्हें पता चला कि मैं बीजेपी से हूं। उन्होंने मेरे खानपान की व्यवस्था की रात में। सुबह उन्होंने बेटे को भेजकर मैकेनिक बुलाया और गाड़ी सही करवाई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंजाब में उनकी सुरक्षा में चूक को लेकर कहा कि वे इस मुद्दे पर मौन बनाए रखे हुए हैं। पीएम मोदी ने बुधवार को एक इंटरव्यू में कहा की सुप्रीम कोर्ट इस मामले को गंभीरता से देख रहा है। मेरा कोई भी वाक्य पूरी कार्रवाई पर प्रभाव डाल सकता है। यह उचित नहीं है।जो भी है, सुप्रीम कोर्ट की जांच कमेटी बाहर निकालेगी। तब तक हमें इंतजार करना चाहिए।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.